पूर्व सैनिक नागेंद्र सिंह रावत ने सभी राजनितिक दलों को लिखा खुला पत्र

Last Updated : Sep 19, 2020   Views : 164

कांडी -बंदरकोट :

नागेंद्र सिंह रावत पूर्व सैनिक ने सभी राजनितिक दलों को लिखा खुला पत्र और इसमें उन्होंने अपने क्षेत्र की बहुतसारी अधूरी पड़ी योजनाओ की बारे में विस्तार पूर्वक लिखा है। खासतोर से कांडी पम्पिंग योजना जो की सालो से लड़की पड़ी है। कई सरकारे आयी कई विधायक बने पर कांडी पम्पिंग योजना जहा की तहा है आगे बढ़ने का नाम ही नही ले रहे है।

नागेंद्र सिंह रावत की कलम से :-
धनोल्टी विधानसभा से 2022 के लिए सनखनाद की तैयारी में जुट गए तमाम राजनीति दिगजों ने सोशल मीडिया पर अपनी पोस्ट डालनी सुरु कर दी है ओर लोगों से सम्पर्क साधना भी सुरु कर दिया है | लेकिन में दिगजों से पूछना चाहता हुँ की मेरी ग्राम सभा के लोग चीला चीला कर थक चुके हैं की कांडी पम्पिंग योजना करवा दो ,मेलगड़ रोड़ करवा , मसोंन कांडी रोड़ का अधूरा पड़ा कार्य पूरा करवा दो लेकिन किसी के कानों में जूं तक नही रेंगती  | अब आएंगे अपने अपने पार्टीयों का झंडा लेकर अपने अपने चहेते नेताओं की लुंगी पकड़ कर घोषणा करेंगे कि मेरी सरकार बनेगी तो 100%पम्पिंग योजना करवायेंगे मेलगड रोड़ पहुंचाएंगे मसोंन कांडी रोड़ को पूरा करवाएंगे और साथ साथ कहेंगे कि हमने तो कोरोना में उस गाँव मे इतनी राशन बांटी उस गाँव मे इतनी राशन बाँटी  | मैं तहसील नैनबाग क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले छेत्र की समानित जनता से पूछना चाहता हूँ कि कोई भी ब्यक्ति ये बता दे कि छेत्र में कोई बहुत बड़ा कार्य हुआ है  |

जिससे क्षेत्र में विकास की लहर दौड़ गई बेरोजगारों को रोजगार मिल गए ,कोई बड़े कॉलेज कोई बड़े इंस्टुयूट कोई केंद्रीय विद्यालय कोई सोल्जर बोर्ड कोई पुराणी रोड़ो का चौड़ी करण कई गाँव को जोड़ने वाली लम्बी सड़के ,पलायन के बारे में क्षेत्र का कोई भी गाँव बताएं कि मेरे गाँव मे कोई बहुत बड़ा रोजगार मिला है और मेरे गाँव में 10 %पलायन रुका है जौनपुर की रोड़ों में मसोंन कांडी रोड़ को करीब 25 वर्ष हो चुके है वैसी की वैसी है मेलगड गाँव आज भी कई km पैदल चलने में मजबूर है डीबोगी दुधली रोड़ वैसी की वैसी है ,नैनबाग नागटिब्बा जाने वाली रोड़ जितनी थी उतनी है कोई चौड़ीकरण नही हुआ जबकि इस रोड में नागटिब्बा जाने वाले पर्यटकों की आवज्वाहि बहुत हो चुकी है  | छोटे मोटे ठेकेदारों की रोजी रोटी भी बंद हो चुकी है क्षेत्र वासियों जागरूक होने की आवश्यक्ता है क्षेत्रीय विकास के 2022 में नेताओं की नींद से जागने के लिए अपने अपने गाँवों से दूर रखना होगा जगो क्षेत्रवासियों जागो |

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Join Us On Facebook