में कोरोना महामारी हूँ।। (कविता )

Last Updated : Jun 01, 2020   Views : 270

धीरज रावत अभी हाल ही में बाहर से आये थे और वो सभी नियमो का पालन करते हुए 14 दिन के क्वारंटाइन  में है, उन्होंने समय का सदुपयोग करके कोरोना पर एक कविता ही लिख डाली। धीरज जो है ग्राम कांडी के रहने वाले है उनकी ये कोसिस कबीले तारीफ है।

कोरोना महामारी (कविता )

इस कोरोना कि यह माहामारी, रह गई दुनिया हारी हारी ।
आसान थी यह कोरोना बीमारी, समय पर कर देते यदि निर्देश जारी ।।
इस कोरोना कि यह माहामारी, कुछ लोगों पर पड़ रही यह भारी ।
इंसान को जीवन का फंडा सिखाने आई यह माहामारी, कुछ लोगों के लिए यह टाइम बहुत भारी, कुछ लोगों के लिए यह आज्ञाकारी ।।

हर 100 साल बाद आती है यह माहामारी, धरती का संतुलन बनाने की लेती है यह जिम्मेदारी ।
इतनी बुरी है यह बीमारी, रोड पर आ गए हैं सब कर्मचारी ,
चीन के वुहान शहर से शुरू हुई है यह माहामारी, हिला दी जिसने दुनिया सारी ।।
इस कोरोना की यह महामारी, रह गई दुनिया हारी हारी ।
आसान थी यह कोरोना बीमारी, समय पर कर देते यदि निर्देश जारी ।।

पग पग पर करना पड़ेगा मुश्किलों का सामना , यही है यह कलयुग का जमाना ।
इस कोरोना का यह कारनामा , पुलिसवालों डॉक्टरों को करना पड़ा इसका सामना ।।
पुलिस वालों डॉक्टरों ने गवाई जहा अपनी जान, बड़ाई इन्होंने देश की शान ।
कौन अपना कौन पराया दुख संकट में पहचान न पाया ,जो दुख संकट में खड़ा पाया उसी को हमने अपना बनाया ।।

नहीं रहा अब वह जमाना सत्य निष्ठा कर्म धर्म को श्रेष्ठ बनाना, मोह माया रूपी जाल में खो बैठे हैं अपने अस्तित्व को बनाना । कारणवश भूल जाते हैं खुद को पहचानना , यही है वह जमाना जब बना रहा है इंसान अपने नाकामयाबी के बहाना ।।

इस कोरोना कि यह माहामारी, रह गई दुनिया हारी हारी ।

आसान थी यह कोरोना बीमारी ,समय पर कर देते यदि निर्देश जारी ।।

घर बैठकर जीतनी होगी यह जंग , पुलिस वालों को बाहर मत करो इतना तंग ।
इंसान को सबक सिखाने आई है यह बीमारी , हिला दी जिसने भारत माता हमारी ।।
आओ मिल जुलकर करें भाई चारा , दुनिया को बता दे हम हैं देश के पक्के सहारा ।
सरकार के नियम कानूनों का पालन करना उद्देश्य है हमारा ।।
अपने मानसिक संतुलन को नियंत्रण करना है ,महामारी से जंग लड़ना है ।
लोगों को जानकारी से अवगत कराना है , ग्रामीण समाज को परिपक्व बनाना है ।।
इस कोरोना कि यह महामारी ,रह गई दुनिया हारी हारी ।
आसान थी यह कोरोना बीमारी, समय पर कर देते यदि निर्देश जारी ।।

लेखक :
धीरज रावत
ग्राम : कांडी, जौनपुर

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Join Us On Facebook