रजत अग्रवाल के नेतृत्व में आज मसूरी में अंग्रेजी स्कूलों के मनमानी के खिलाफ एसडीएम मसूरी को ज्ञापन सौंपा

Last Updated : Jul 23, 2020   Views : 51

मसूरी :-

आज मसूरी में अंग्रेजी स्कूलों की मनमानी की खिलाफ मसूरी अभिभावक संघ ने एसडीएम मसूरी श्री प्रेम लाल से मिलकर स्कूल टयूशन फीस माफ़ करने की मांग की। मसूरी में अंग्रेजी मीडियम स्कूलों के द्वारा अभिभावकों के ऊपर फीस देने का दबाव बनाया जा रहा है, जोकि सरासर अनुचित है क्योंकि मसूरी में सारे स्कूल बंद है, ऐसे में स्कूल खाली ट्यूशन फीस ही ले सकते है ना कि अन्य फंड्स वगैरह जैसे बिल्डिंग फंड लाइब्रेरी इत्यादि। क्युकी इनका अभी कोई भी इस्तेमाल नही किया जा रहा है।

बहुत सारे स्कूलों में ऑनलाइन के नाम से व्हाट्सएप पर ही होमवर्क भेज के पढ़ाया जा रहा है, जो कि ऑनलाइन पढ़ाई के अंतर्गत नहीं आता है यैसे में उनका फीस मांगना गलत है। जो स्कूल ऑनलाइन क्लास करवा रहे उनके द्वारा अभिभावकों परस्मार्टफोन का एक अतिरिक्त बोझ पड़ गया है, क्योंकि मसूरी एक टूरिस्ट प्लेस है तो यहां पर सारा रोजगार टूरिस्ट के ऊपर चलता है। यहां पर टूरिस्ट ना आने के कारण सारा रोजगार ठप्प पड़ा हुवा है, जिसके कारण अभिभावक स्कूल फीस देने में असमर्थ है। बहुत सारे अभिभावकों का कहना है कि बहुत सारे स्कूलों ने मार्च में ही एडवांस फीस ले ली गई थी तो उनका कहना है कि उसी में से ही ट्यूशन फीस ले ली जाए और जो अन्य फीस है वो न ली जाए।

अभिभावकों की आर्थिक स्थिति को देखते हुए मई वह जून की फीस माफ़ की जाए। अभिभावकों ने एसडीएम मांग की है मसूरी में सारे स्कूलो की एक मीटिंग बुलाई जाए इस पर एसडीएम मसूरी श्री प्रेम लाल आस्वस्थ किया है जल्दी की स्कूलों की प्राचार्यो की एक बैठक बुलाई जायेगे और समाधान निकला जायेगा | कोई विद्यालय इसमें आनाकानी करता है तो कोविड 19 की धाराओं व सरकारी गाइड लाइन के उलंघन के तहत प्राथमिकी दर्ज कराई जायेगी।

इस अवसर पर रजत अग्रवाल, जगजीत कुकरेजा,देवेंद्र सिंह गुनसोला इत्यादि लोग मौजूद रहे।

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Join Us On Facebook