पहाड़ों की रानी मसूरी की पर्यटन सम्बन्धी समस्याओं को लेकर पर्यटन सचिव दिलीप जावलकर से मुलाकात करते मसूरी विधायक गणेश जोशी।

Last Updated : Aug 14, 2020   Views : 165

देहरादून 14 अगस्त: शुक्रवार को सचिवालय में मसूरी विधायक गणेश जोशी ने पर्यटन विभाग के सचिव दिलीप जावलकर से मुलाकात कर पहाड़ों की रानी मसूरी की पर्यटन सम्बन्धी समस्याओं पर चर्चा की।
विधायक जोशी ने पर्यटन सचिव को अवगत कराया कि कोविड-19 की महामारी के कारण मसूरी होटल इंडस्ट्री में वित्तीय आपातकाल जैसी स्थिति हो गयी है। इस महामारी के कारण होटल इंडस्ट्री सर्वप्रथम ग्रसित हुई और महामारी के अंत में ठीक होगी। कोविड-19 के इस दौर के बीच जलसंस्थान द्वारा पानी एवं सीवर के भारी भरकम बिल होटलियर्स को दिये जा रहे हैं जबकि महामारी के कारण मसूरी की सम्पूर्ण होटल इंडस्ट्री पूर्ण रुप से बंद है। उन्होनें अप्रैल 2020 के बाद पेयजल बिल एवं सीवर सीट बिल को माफ करने का आग्रह किया।

विधायक जोशी ने बताया कि मुख्यमंत्री घोषणा के अन्र्तगत वर्ष 2017 में मसूरी के भट्टा फाॅल, गनहिल, झड़ीपानी एवं पर्यटक स्थल रोबर्स कैव (गुच्छुपानी) में पर्यटन सर्किट बनाया जाना तथा स्वीकृति हेतु भारत सरकार को भेजा जाना था किन्तु वर्तमान तक कोई कार्यवाही नहीं हो सकी है। उन्होनें इन पर्यटन योजनाओं को भी गम्भीरता से लेने को कहा। साथ ही, सहस्त्रधारा में 27 करोड़ की लागत से बन रही कार पार्किग को निर्माण कार्य में तेजी लाने को भी कहा। उन्होनंे कहा कि पिछले चार वर्षो के दौरान पार्किंग का कार्य अत्यधिक धीमी गति से चल रहा है।
पर्यटन सचिव दिलीप जावलकर ने बताया कि गुच्छुपानी के लिए विभाग द्वारा सुरक्षात्मक कार्य हेतु 19 लाख की धनराशि जारी कर दी गयी है और जल्द ही सुरक्षात्मक कार्य प्रारम्भ कर दिया जाऐगा। साथ ही, उन्होंने बताया कि सहस्त्रधारा पार्किग के लिए अगली किश्त जल्द ही जारी कर दी जाऐगी।

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Join Us On Facebook